शिव संस्कृत श्लोक short, one line हिंदी अर्थ सहित

शिव ही शुभ हैं। प्रणाम आदियोगी के इस अंक में शिव संस्कृत श्लोक Short, One line हिंदी अर्थ सहित संग्रहित हैं। श्लोकों के माध्यम से त्रिलोकीनाथ भगवान शिव का स्मरण करने की प्राचीन परंपरा है। वे अत्यंत सरलता से प्रसन्न होने वाले देवता हैं। जो भक्तजन भगवान शिव का पूजन-अर्चन करते हैं। उनका निश्चित ही … Read more

गणेश वंदना श्लोक एवं मंत्र अर्थ सहित

संस्कृत श्लोक सरिता की श्रृंखला के इस अंक में गणेश वंदना श्लोक एवं मंत्र हिन्दी अर्थ सहित प्रस्तुत हैं। प्रभु श्री गणेश जी समस्त विघ्नों का नाश करने वाले हैं। किसी भी शुभ कार्य को शुरू करने से पहले। प्रभु श्री गणेश जी की वंदना की जाती है। जिससे कि हम जो कार्य कर रहे … Read more

कट्टर हिन्दू श्लोक अर्थ सहित

हिंदुत्व का इतिहास बहुत गौरवशाली इतिहास रहा। ये विश्व की सबसे प्राचीनतम संस्कृति है। सनातन संस्कृति का इतिहास पराजय का नहीं पराक्रम का है। हिंदू संस्कृति कहती है, “वसुधैव कुटुम्बकम” अर्थात सम्पूर्ण विश्वास ही हमारा परिवार है। आदियोगी के इस अंक में कट्टर हिन्दू श्लोक हिंदी अर्थ सहित प्रस्तुत हैं। सनातन संस्कृति ही विश्व की … Read more

सरस्वती वंदना संस्कृत श्लोक अर्थ सहित

इस अंक में सरस्वती वंदना संस्कृत श्लोक हिंदी अर्थ सहित संकलित हैं। विद्या की देवी माँ सरस्वती की कृपा समस्त मानव जाति पर बनी रहे। जिससे कि हम सब काम, क्रोध, लालच और नफरत को हृदय से मिटाकर सौहार्द पूर्ण और सुखमय जीवन व्यतीत करते रहें। सरस्वती वंदना संस्कृत श्लोक “सरस्वतीं च तां नौमि वागधिष्ठातृदेवताम् … Read more

राधा-कृष्ण प्रेम श्लोक संस्कृत, युगलाष्टकम् सहित

इस अंक में राधा-कृष्ण प्रेम श्लोक संस्कृत, युगलाष्टकम् सहित, हिंदी अर्थ सहित संकलित हैं। राधाकृष्ण के रिश्ते को दिव्य प्रेम का उच्चतम रूप माना जाता है। कृष्ण शुद्ध प्रेम के अवतार थे। कृष्ण और गोपियों के बीच सम्वन्ध आधुनिक रिश्तों की तरह नहीं। बल्कि उच्चतम प्रेम की भावना है। ऐसा माना जाता है कि कृष्ण … Read more